अनिश्चितकालीन अनशन का पांचवे दिन भी जय प्रकाश विश्विद्यालय कैंपस में जारी रहा

मनोरंजन पाठक छपरा

छपरा अनिश्चितकालीन अनशन का पांचवे दिन भी जय प्रकाश विश्विद्यालय कैंपस में जारी रहा वही तीन छात्रों की तबियत काफी बिगड़ जाने के बाद उन्हें सदर अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया है। छात्र संगठन आर एस ए एवं एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं के द्वारा अपनी मांगों को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ आमरण अनशन पर है होते रहा । एनएसयूआई के चुन्नू सिंह एवम मनीष पांडेय मिंटू अनशन पर बैठे हुए हैं। लगातार पाँचवे दिन भी। अनशन कारी में लगातार वृद्धि हो रही है । आज जबकि वीसी महोदय के द्वारा अनशन पर बैठे छात्रों को देख कर भी अनदेखा किया गया वही इस छात्रों की माने तो विश्वविद्यालय के प्रो वीसी के द्वारा विवादित बयान भी दिया गया कि इस तरह के अनशन से उन्हें कोई भी फर्क नही पड़ता है दो चार मर भी जाएंगे तो कोई बात नही। अनशनकारियों का।चुन्नू सिंह और मनीष पांडेय को कभी भी कुछ हो सकता है। लगातार स्वास्थ्य गिर रहा है, लगतार स्वास्थ्य चेकअप हो रहा हैं लेकिन स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं है ।अनशन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए छात्र नेताओं ने कहा कि या तो हमारी मांगे पूरी होगी या तो हमारी लाश इस विश्वविद्यालय से जाएगा । लेकिन अनशन पर बैठे छात्रों ने कहा कि अगर मांग पूरी नही हुई तो अब आत्म दाह करेंगे अगर छात्र छात्राएं आत्मदाह में अपना प्राण त्याग करेंगे और प्राण त्याग के दोषी केवल और केवल एकमात्र व्यक्ति है वह होगा कुलपति। अनशन स्थल पर तरैया के विधायक मुंद्रिका प्रसाद यादव पहुंचकर अनशन कारियों का समर्थन किया। उन्होंने ने कहा कि में पूरे मामले को लेकर राजभवन को अवगत करा रहा हु। ।छात्र संगठन के प्रमुख मांग निम्नवत है:-(1) चतुर्थ मेघा सूची के प्रकाशन जो हुआ है। उसमें मैं राज्य सरकार द्वारा स्वीकृत सीटों के 20% सीट बढ़ोतरी जो राज्य सरकार के द्वारा पूर्व में हुआ था। उसके अनुसार किया जाए।(2) 9000 से अधिक स्वीकृत सीटों पर जिस पर आवेदन नहीं आया है(आपके अनुसार) ।उस स्वीकृत पद पर उस विषय में स्पॉट ऐडमिशन करने की घोषणा की जाए या जो छात्र छात्राएं आवेदन किए हैं । उन्हें विषय चेंज करके उन विषयों में नामांकन लेने का आदेश दिया जाए।(3) राज्य सरकार को सीट बढ़ोतरी के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन पत्र लिखें या स्नातक प्रथम खंड सत्र 2018- 21 मैं जितने नामांकन हुए हैं ।उसी आधार पर सत्र 2019- 22 मैं भी नामांकन लिया जाए।(4) किस विषय एवं किस कॉलेज में कितने आवेदन आए हैं उन छात्र-छात्राओं का कट ऑफ मार्क सहित सूची उपलब्ध कराया जाए।जब तक यह चारो मांग पूरा नहीं होता तब तक हम लोगो का अनशन जारी रहेगा ।बाईट टू बाईट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat