LIVE24X7

असरगंज में जमीन विक्रेता व क्रेता के बीच समझौता के उपरांत 81 घंटे बाद टूटा अनशन

रास्ता का तो छत टूटा नही, किन्तु आवागमन में असुविधा होने पर नीचे का छत तोड़ने का मिला आश्वासन, लेकिन ऊपर के छत का होगा निर्माण*भागलपुर जिला के सुल्तानगंज अंचल अंतर्गत धांधी-बेलारी पंचायत स्थित, असरगंज राज बनेली रोड सह हाट रोड में, सोमवार दोपहर एक बजे से रास्ता विवाद को लेकर अनशन पर बैठे दस जमीन क्रेताओं ने समझौते के बाद चौथे दिन रात 10:00 बजे स्वतः अनशन तोड़ दिए।अनशनकारी जमीन क्रेता अर्जुन प्रसाद साह ने बताया कि अनशन के चौथे दिन गुरुवार देरशाम बिक्रेता पक्ष पूर्व स्वास्थ्य मंत्री शकुनी चौधरी ने हमलोग को बातचीत करने के लिए अपने निवास स्थान पर लखनपुर बुलाए।तब सुरेश मांझी, डाॅ राकेश, बासुदेव जी के साथ हम भी वहां पहुंचे।और दोनों पक्षों के बीच बातचीत हुई।जिसमें विक्रेता पक्ष शकुनी चौधरी का निर्णय यह हुआ कि मकान को दो भागों में तो नही होने देंगे।लेकिन खाता 550 खसरा 58 रकवा 34 डिसमिल के सभी जमीन क्रेताओं को दिए गए रास्ते में जाने आने में असुविधा भी नही होने देंगे।उन्होंने कहा कि फिलहाल सभी जमीन क्रेताओं को उक्त रास्ते में अभी आवागमन में कोई परेशानी नही है।इसीलिए रास्ते के ऊपर का छत अभी रहेगा।

उक्त छत के ऊपर छत ढलाई करेंगे।लेकिन रास्ते छत के ऊपर उत्तर व दक्षिण साइड को दिवाल से नही घेरेंगे।जब देखेंगे कि उक्त रास्ते में आवागमन में परेशानी हो रही है तब नीचे का छत तोड़कर आवश्यकतानुसार आर्क जैसा ऊपर तक बनवा दिया जाएगा।ताकि जमीन क्रेताओं को आवागमन में कोई परेशानी नही होगी।इधर विक्रेता का निर्णय सुनकर हम सभी क्रेताओं ने निर्णय लिया कि जब हमलोगों को आवागमन में कोई परेशानी ही नही रहेगी।तो विक्रेता के निर्णय पर हमलोगों को कोई आपत्ति नही है।और रात दस बजे के करीब सभी जमीन क्रेताओं ने स्वतः ही अनसन स्थगित कर दिए!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat