LIVE24X7

इस घटना को मांद्य ग्रहण कहा गया है।

10 जनवरी को होने वाली खगोलीय घटना को चन्द्र ग्रहण नहीं माना जाएगा।इस घटना को मांद्य ग्रहण कहा गया है।मांद्य यानि मंद पड़ने की प्रक्रिया।10 जनवरी की रात को चन्द्रमा की छवि धूमिल होती प्रतीत होगी ।चन्द्रमा का करीब 90% भाग मटमैला हो जाएगा। परन्तु इस क्रिया में चन्द्रमा का कोई भाग ग्रस्त नहीं होगा।

यह दृश्य भारत के अलावा अमेरिका ,कनाडा,ब्राजील, अर्जेन्टीना जैसे देशों में भी दिखाई देगा।भारतीय ज्योतिष सिद्धांत के अनुसार इस प्रक्रिया को ग्रहण नहीं माना गया है।अतः ग्रहण जन्य सूतक भी नहीं लगेगा।इसी कारण भारतीय पञ्चांगों में इसे कहीं नहीं दर्शाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat