कोरोना की क्रूरता को बढ़ा रहे सरकारी अस्पताल।

कोरोना की क्रूरता को बढ़ा रहे सरकारी अस्पताल

बरुण कुमार:–

जिला अस्पताल जहानाबाद में थर्मल स्कैनर , आक्सीमीटर तथा ग्लूकोमीटर का अभाव सरकारी अस्पताल के रेफर करने वाला संस्थान के लायक भी नहीं छोड़ा बाढ़ भी सिर उठाने को हैं।

जहानाबाद : – ‘ नव निर्माण संस्थान ‘ ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग बैठक कर जहानाबाद जिला की चिकित्सा व्यवस्था को नसीहत देते हुए जिला प्रशासन को आगाह किया । बैठक में वर्तमान चिकित्सा व्यवस्था ( कोविड 19 के संबंध में ) पर गंभीर चिंता व्यक्त की गई कि जहाँ महीनों से लोकडाउन और अनलॉक बना शहर जहानाबाद कोरोना की क्रूरता के कहर से छटपटाने लगा है । वहाँ बॉस की बल्ले से घेर प्रशासन अपना पीठ थपथपाने में लगा है । जब सरकारी अस्पताल में आवश्यक उपकरण नहीं तो प्राईवेट में अच्छी सुविधा कहा पा सकते । आप कागजी खाना पूर्ति में लगे हैं । तत्तक्षण आवश्यक उपकरण क्यों नहीं लगाते ? एक ही थर्मामीटर से सबका ताप- माप करके संक्रमण के बढ़ाने का काम से लोगों की समस्या बढ़ेगी । हमारे कोरोना योद्धाओं के साथ क्यों ऐसा शहादत का प्रपंच रचा जा रहा हैं ? ये बेहद चिंताजनक स्थिति हैं । ये क्यों हो रहा हैं ? इसके लिए व्यक्तिगत जिम्मेवारी तय होनी चाहिए । आवश्यक उपकरण तो अस्पताल को महीनों वर्षो में नहीं घंटो में उपलब्ध होनी चाहिए । तब ही कोरोना से सही ढ़ग से निर्णायक लड़ाई संभव हैं ।नहीं तो इसे झोला छाप चिकित्सों से भी बदतर ढ़ग से कोरोना से लड़ाई की सरकारी मंशा मानी जायेगी । जो चुनाव में उतरने वाली सरकार के हित में नहीं होगा । सेवा के कार्य को पूर्ण समर्पण के साथ किया जाना चाहिए । दिखावा करने से सब और से नुकसान होता हैं । इस कारण जहानाबाद के कर्मठ जिलाधिकारी महोदय से सादर आग्रह है कि समुचित कार्यवाही द्वारा उपलब्धता सुनिश्चित करावें । आम जन आपके साथ कोरोना युद्ध में कंधा से कंधा मिलाकर खड़े हैं ।’ नव निर्माण संस्थान ‘ जहानाबाद ने अपनी पैनी नजर कोरोना के साथ- साथ पानी की अधिक तथा बाढ़ पर भी बनाये हुए । संस्था के अध्यक्ष आचार्य मनोज कुमार कमल , सचिव संजय शर्मा , कोषाध्यक्ष अरविंद कुमार सिंह , ने अपने कार्यकारिणी सदस्य आचार्य रंगनाथ जी महाराज , महेन्द्र प्रसाद देहाती , पुनम कुमारी , बरुन कुमार , कुमुन्त कान्त जी से वीडियों कान्फ्रेसिंग से बैठक करके समस्याओं को प्रशासन के संज्ञान लाने का कार्य किया । इसके बाद धन्यवाद के साथ बैठक का समापन अध्यक्ष जी के आदेश से की गई ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat