जनता अगर खिलाफ बोले तो उनके बच्चे को आंगनबाड़ी केंद्र से नाम कट कर भगा दिया जाता है, सेविका शबनम कुमारी हैं दबंग

आंगनबाड़ी नहीं खुलता है कभी जनता अगर खिलाफ बोले तो उनके बच्चे को आंगनबाड़ी केंद्र से नाम कट कर भगा दिया जाता है सेविका शबनम कुमारी थोड़ा दबंग होने के कारण अगर ग्रामीण विरोध करे तो कहा जाता है

कि मेरा सब मैनेज है मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकताभागलपुर कहलगांव प्रखंड के अंतर्गत शैलेंद्र गांव आंगनबाड़ी में केंद्र संख्या 176 कभी टाइम पर नहीं खुलता है सविता का नाम शबनम कुमारी का जब इसका विरोध जब ग्रामीण करे तो उसे ही धमकाने में मशहूर हो जाती है आंगनबाड़ी सेविका का क्योंकि गांव के ही आंगनबाड़ी सेविका रहने से कभी भी आंगनबाड़ी समय पर नहीं खुलता है ग्रामीण मैं काफी आक्रोश का देखने को मिला है जबकि साहिका ने भी सहायिका के विरोध में बताया कि जब बुलाने जाते हैं उनके घर पर तब जाकर शबनम कुमारी केंद्र पर आती है नहीं तो नहीं आती है उसी गांव के वार्ड कमिश्नर ने बताया कि कभी कदार ही आंगनबाड़ी केंद्र खुलता है करीब करीब बंद ही रहता है ग्रामीणों ने जमकर विरोध किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat