तेज प्रताप यादव को अपने ही विधानसभा में करना पड़ा विरोध का सामना

हाजीपुर/ वैशाली पूर्व मंत्री तुलसीदास मेहता के श्राद्ध कर्म में जाने के दौरान राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव को गांव के लोगों ने घेर कर खूब खरी-खोटी सुनाई। उन्हें भारी विरोध का सामना करना पड़ा। लोगों ने तेज प्रताप की गाड़ी को घेर कर सवालों की झड़ी लगा दी। लेकिन किसी तरह तेज प्रताप वहां से निकल गए। सड़क की बदहाली को लेकर लोगों ने कहा कि आप को वोट दी थी तो रोड बनाने का काम भी आपका है। लोगों ने तेजप्रताप से दो टूक कहा यह क्षेत्र आपका है। आप सड़क की हालत देखिए यह सड़क कब बनेगी बताइए। इस तरह से झल्लाए तेज प्रताप ने लोगों ने को समझाने की कोशिश की लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं थे।

ग्रामीणों ने तेज प्रताप की गाड़ी को बीच रास्ते में रोककर उनके प्रति कड़ी नाराजगी व्यक्त की। इधर तेज प्रताप ने गाड़ी से उतरकर लोगों के सवालों का जवाब देने की कोशिश की लेकिन कोई उनकी बात सुनने को तैयार नहीं था। और सारा दोष मढ दिया मुख्यमंत्री के ऊपर। सड़क निर्माण में हो रही देरी का ठीकरा तेज प्रताप ने सीएम नीतीश के सर फोड़ा। उन्होंने कहा पीडब्ल्यूडी को सड़क निर्माण का काम सौंप दिया गया है। यह सब पलटू चाचा की देन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat