नदी में डूबने से पुत्र सहित दोनों पोता के मौत पर, किजीबहेरा गांव में शोक की लहर, नही जला गांव में चूल्हा।

 

निर्मल कुमार पांडे

नदी में डूबने से पुत्र सहित दोनों पोता के मौत पर, किजीबहेरा गांव में शोक की लहर, नही जला गांव में चूल्हा बुधवार को दरभंगा के जाले प्रखंड के काजीबहेरा गांव में शोक की लहर दौड़ गई। राजाराम महतो का शिक्षक पुत्र अनिल महतो व इसका दोनों पुत्र बाढ़ के के पानी मे एकसाथ बहकर तीनो पिता पुत्र की मौत की घटना सुनकर गांव में शोक की लहर फैल गई, संपूर्ण गांव में किसी घर का चूल्हा नही जला। मृतक के पिता राजाराम महतो के घर पर सैकड़ो लोगो की भीड़ उमड़ पड़ी, जितनी मुह उतनी बात, मृतक की माता जानकी देवी बेटा व दोनों पोता के असमायिक मौत की खबर सुनते ही बेहोश होकर गिर गई। वही मृतक के चाचा रामबाबू महतो का रो रो कर बुरा हाल है।

मृतक के चाचा ने बताया कि लॉकडाउन के कारण द्विव्यंशु कोटा से घर वापस आया था, वह कोटा में मेडिकल की तैयारी कर रहा था, प्रियांशु भी पढ़ने में बहुत प्रखर था, दोनों भाई को आईएएस आईपीएस बनाएंगे यह कहने में गर्व होता था, भैया की क्या स्थिति होगा कहते कहते चाचा रामु चीत्कार मार कर रोने लगे। बड़ा की कारुणिक स्थिति है। चारोओर रोने चीत्कार होने से सभी का मन द्रवित हो गया है। बताते चले कि मृतक शिक्षक अनिल महतो बेनीपुर के जगदीशपुर मध्यबिद्यालय में शिक्षक थे, वह अपने पत्नी सुनिता देवी व दोनों पुत्र द्विव्यंशु व प्रियांशु के साथ बेनीपुर मे अपने ननिहाल में मामू डॉ जयकिशुन महतो के घर पर रहते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat