पटहेरवा थाने के साहब के खासमखास का विरोध करना युवक को पड़ा महंगा,गया जेल.

जिला संवाददाता जावेद अख्तर कुशीनगर

फर्जी मुकदमे में फ़साने का आरोप,निष्पक्ष जांच की मांगपटहेरवा कुशीनगर ।आरोप कि तीन दिन पूर्व अपने दोस्त के यहां से लौट रहे युवक को गश्त पर निकले साहब ने उठाया,फिर मोटे रकम की डिमांड पूरी न करने पर युवक को फर्जी मुकदमे में भेज दिया जेल, परिजनों का आरोप।प्रधान संघ तमकुही अध्यक्ष प्रतिनिधि विजय प्रताप सिंह ने लगाये गम्भीर आरोप,बोले कि मेरे विरोधियों व एक सपा नेता के इशारे पर कार्य कर रहे हैं थानाध्यक्ष, भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न कर रहे थानाध्यक्ष।

हाटा में भी भाजपाइयों का उत्पीड़न करने के लगते रहे हैं आरोप,सपा कार्यकर्ताओं के इशारे पर कार्य कर सरकार की छवि धूमिल कर रहे थानाध्यक्ष, भाजपा कार्यकर्ताओं में असंतोष।प्रधान संघ अध्यक्ष सहित परिजनों ने डीजीपी सहित उच्चाधिकारियों को पत्र भेजकर मामले की निष्पक्ष जांच की मांग ।कुशीनगर जिले का पटहेरवा थाना इन दिनों सुर्खियों में है लोग थानाध्यक्ष की कार्यशैली से भयभीत हैं। इतना ही नही , पुलिसकर्मी भी साहब के कार्यशैली व अभद्र भाषा के प्रयोग से पीड़ित है।भय इतना है कि लोग रात्रि में निकलने से भी डरने लगे हैं और डरे भी क्यो न ।क्यो कि साहब रात्रि तो कभीं गश्त में निकलते तो नही है लेकिन जब निकले तो इस दौरान जो भी दिख गया, उसे अपने वाहन पर बैठाकर थाने ले जा रहे हैं फिर सुबह परिजनों को बुलाकर मोटा रकम की डिमांड की जा रही हैं, बात बन गयी तो 151 की कार्रवाई अन्यथा फर्जी मुकदमे में जेल।साहब के आराम फरमाने का साक्ष्य हैं कि क्षेत्र में वाहन चोरियो की भरमार हो गयी हैं, अपराध का ग्राफ बढा हुआ है। शराब, गांजा की तस्करी व देह व्यापार का धंधा जोरो पर है। महोदय इतने सक्रिय हैं कि 2 मार्च को रजवटिया ग्राम पंचायत में आई बारात में प्रेमशंकर सिंह के मित्र के वाहन की चोरी हो जाती है, लेकिन कार्रवाई की बात तो दूर अब तक मुकदमा तक पंजीकृत नही किया गया। इसी तरह पटहेरिया चौक पर स्थित मेडिकल की दुकान का ताला तोड़कर 85000 हजार रुपये की चोरी हो जाती हैं लेकिन आश्चर्य कि बात है जब मामले की शिकायत लेकर डा. आरपी कुशवाहा जब थाने पहुचते हैं तो उन्हें यह कहकर लौटा दिया जाता है कि मुकदमा लिखाने से कुछ नही होता हैं। बिना मुकदमा दर्ज किए ही वापस कर दिया जाता हैं। ऐसे ही तमाम मामले हैं जो साहब की कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर रही हैं। फिर आमजन व गरीब साहब की डिमांड को कैसे पूरा करेगा, इस वजह से रात्रि में कीसी की तबियत भी खराब हो जाये,लोग सहयोग करने से भी कतराने लगे हैं। रजवटिया निवासी युवक 11 मार्च को अपने दोस्त के यहाँ से रात्रि में भोजन करके आ रहा था कि इसी बीच गश्त पर निकले साहब उसे अपनी गाड़ी में लेकर थाने लेते गये। परिजनों सहित प्रधान संघ अध्यक्ष प्रतिनिधि ने डीजीपी सहित उच्चाधिकारियों को पत्र भेजकर आरोप लगाया कि तीन दिन तक थाने पर युवक को बैठाकर मोटी रकम की डिमांड की जाती रही, फिर देने में असमर्थता जताने पर उसे जेल भेजने का बात किया जाता रहा। परिजनों ने बताया कि जब रुपये नही दिया गया तो 14 मार्च को युवक को चोरी की घटना में होने की मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया। सबसे आश्चर्य कि बात है कि युवक के जेब मे एक भी रुपया नही था, घर से 50 रुपया लेकर निकला था, फिर उसके जेब से चोरी की रकम की बरामदगी भी दिखा दी गयी। यह जांच का विषय हैं इससे प्रतीत होता हैं कि युवक को फर्जी मुकदमे में फसवाया गया है क्यो कि कुछ दिन पूर्व एक व्यक्ति जो साहब व एक सपा नेता का करीबी हैं, के द्वारा फर्जी मुकदमे में फ़साने की बात की गई थी। मामले की निष्पक्ष जांच कराकर थानाध्यक्ष के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat