बाढ़ पीड़ितों की आँसू नही देख पा रही सरकार – शशिकांत सिंह.

 

 

 

बरुण कुमार:–

 

 

उतर बिहार मे आए भीषन बाढ़ की त्रासदी झेल रही आमजन मानस के दर्द से अंजान बन रही सरकार को आड़े हाथ लेते हुए बैकुंठपुर विधानसभा के लोकप्रिय सामाजिक कार्यकर्ता श्री शशिकांत सिंह ने कहा की ये तानाशाही सरकार आगामी विधानसभा चुनाव मे गरीबों की आंह मे डूब जाएगी। उन्होंने कहा की सताधारी पार्टी सता के मद मे इस तरह मदहोश है की उसे बाढ़ पीड़ित परिवार के दर्द से कोई लेना देना नही है,

इसलिए ही सरकार चुनावी तैयारियां और रैलियों मे व्यस्त है। बाढ़ रूपी त्रासदी मे अबतक सैकडो लोग जान गवाने पर मजबूर हो चुके है, और करीब एक करोड़ लोग इससे प्रभावित हैं लेकिन सरकार सभी सरकारी तंत्र को अपना गुलाम बनाकर सिर्फ सता के बारे मे सोच रही है।वैश्विक महामारी कोरोना बिहार मे दिन व दिन बढ़ती जा रही है, लेकिन कोई सुध लेने वाला नही है।आज देश मे कोरोना से मरने वालों की संख्या के 13 जिलो मे पटना भी शामिल हो चुका है, बिहार रिकॉर्ड बनाने की ओर बढ़ रहा है लेकिन सरकार इस महामारी को अवसर मे बदल कर दोनो हाथ से लूटने मे लगी है। आज के हालत मे प्रशाशनिक व्यवस्था का ये हाल है की बिहार के किसी थाने मे किसी गरीब का रिपोर्ट तक नही लिखा जाता और अगर कभी लिख भी लिया गया तो पुलिस उसके साथ ऐसा व्यवहार करती है

जैसे कोई बड़ा एहसान कर दिया ऐसे मे पुलिस से निष्पक्ष जाँच की तो उम्मीद ही बेकार है। ठीक वैसा ही हाल न्यायिक व्यवस्था का भी है।आए दिन जनता का पैसा का दुरूपयोग सताधारी पार्टी लोकतंत्र का गला घोटने केलिए कर रही है। लेकिन सरकार को ये याद रखना चाहिए की अहंकार किसी का भी ज्यादा दिन नही टिकता, आने वाले चुनाव मे जनता एक एक हिसाब चुकता करने का मन बना चुकी है, और इस बार निकम्मी सरकार का जाना तय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat