बाराचट्टी सटे झारखंड राज्य के जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण.


बिहार बॉर्डर पर फंसे यात्रियों को भेजा जाएगा उनके प्रखंड के क्वॉरेंटाइन सेंटर में
800 से ज्यादा लोगों को जांच करा कर भेजा गया है
रिपोर्ट गया बिहार
गया वैश्विक महामारी कोविड-19 कोरोना वायरस से बचाव एवं सुरक्षा के लिए किए गए लॉक डाउन की स्थिति का जायजा लेने जिलाधिकारी अभिषेक सिंह व वरीय पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्रा ने संयुक्त रूप से गया जिला के बॉर्डर इलाके का निरीक्षण किया गया है। सुलेबट्टा में दूसरे राज्य से आकर लगी हुई गाड़ियों का निरीक्षण किया गया है। कोलकाता से आई गाड़ी में मजदूर एवं यात्री पाए गए हैं जिन्हें सुलेबट्टा उच्च विद्यालय में आपदा राहत शिविर बनाकर उनके रखने भोजन करवाने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए हैं वहा के प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिए गए और साथ ही उनकी जांच करवाने के उपरांत ही वहां से जिस राज्य एवं जिस जिले से आए उसे उन्हें भेजने के निर्देश दिए गए हैं। वैसे यात्री जो बिहार के दूसरे जिले के हैं

उस व्यक्ति की जांच कराकर बस के माध्यम से उस जिले में भिजवाने के निर्देश दिए गए हैं। जिले से उन्हें संबंधित प्रखंड में भेजा जाएगा तथा उन्हें वहां के क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा जाएगा।
आमस प्रखंड के साव कला में पाए गए यात्रियों को आमस उच्च विद्यालय में आपदा राहत शिविर बनाकर रखने एवं खाना खिलाने के निर्देश दिए गए हैं। हर लोगों का जांच कराकर ही उन्हें भेजने के निर्देश दिए गए हैं। जिलाधिकारी ने चेतावनी देते हुए कहा कि एक भी व्यक्ति बिना जांच के नहीं जाएगा और
लगभग 800 से ज्यादा लोगों को जांच कराकर उन्हें उनके राज्य एवं जिले में आज भेजा गया है।वही वापस लौटते समय उन्होंने शेरघाटी में एसएमजगी सिन्हा कालेज में बने आपदा राहत केंद्र का निरीक्षण किया गया है।आज के भ्रमण के दौरान अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी उपेंद्र पंडित, प्रखंड विकास पदाधिकारी संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं थाना अध्यक्ष मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat