बालूमाथ में पागल कुत्ते ने कुछ घंटे के भीतर एक दर्जन से अधिक लोगों को बनाया अपना शिकार

लातेहार जिला के बालूमाथ (लातेहार)

एक पागल कुत्ते ने बालूमाथ में काफी उत्पात मचा रखा है। पागल कुत्ते ने बालूमाथ में अलग-अलग स्थानों पर स्कूली छात्र छात्राओं सहित करीब एक दर्जन से अधिक लोगों को काट कर अस्पताल का रास्ता दिखा दिया है। बालूमाथ निवासी पत्रकार सह समाजसेवी जावेद अख्तर ने कुत्ता काटने से घायल कई लोगों को बालूमाथ के सरकारी अस्पताल तक पहुंचाया और इलाज करवाया। कुछ दवाइयां अस्पताल में उपलब्ध नहीं रहने के कारण जावेद अख्तर ने अपने खर्च से बाहर से मंगवाया।

पागल कुत्ते का शिकार हुई मोनिका कुमारी (16 वर्ष), (पिता- क्षत्री उरांव, ग्राम- जाला) अपनी सहेलियों के साथ स्कूल जा रही थी कि उसे बालूमाथ थाना के समीप कुत्ते ने काट दिया। मोनिका बालूमाथ हाई स्कूल में प्लस टू की छात्रा है। बालूमाथ बाजारटांड़ स्थित मध्य विद्यालय परिसर में प्रार्थना सभा में उपस्थित छात्र आशीष कुमार (12वर्ष), (पिता- संजय उरांव, ग्राम- चेताग) को भी इसी पागल कुत्ते ने काटा। बालूमाथ के तेलीटोला निवासी मोहन साव (राज मिस्त्री) को बालूमाथ जामा मस्जिद के समीप कुता ने काटकर घायल कर दिया। बालूमाथ के ग़ालिब कॉलोनी निवासी मोहम्मद शाहिद ड्राईवर (45 वर्ष) और बालूमाथ के नूर नगर निवासी सेराज बस एजेंट के बेटा खुर्शीद आलम (20 वर्ष) को भी इस पागल कुत्ते ने काटा है। बालूमाथ के प्रसिद्ध फल व्यवसायी उस्मान सनम के बड़े भाई अब्दुल रहमान भी इस कुत्ते के शिकार हुए। इसी तरह सोनू भुइयां (4वर्ष), (पिता- संतोष भुइयां, ग्राम- हुम्बू), शिव शंकर साव (30 वर्ष), (पिता- झगड़ू साव, ग्राम- मुरपा), जैद खान (6 साल), (पिता- मोनाजिर खान, ग्राम- हुम्बू) और मोहम्मद सदीम (4 साल), (पिता- मोहम्मद जाबिर अंसारी, ग्राम- रोहन) सहित कई अन्य लोग भी पागल कुत्ते के शिकार हुए है। कुत्ते ने किसी के पैर पर तो किसी को जांघ पर व किसी को हाथ पर व किसी को चेहरे पर भी काटा है। समय रहते अगर इस पागल कुत्ते को नहीं मारा गया तो पीड़ितों की संख्या और भी बढ़ते जाएगी। रिपोर्ट कैमरा मैन राहुल कुमार के साथ बद्री गुप्ता लातेहार ब्यूरो की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat