बिहार: बर्निंग ट्रेन बनी इंटरसिटी एक्सप्रेस, यात्रियों ने चलती ट्रेन से कूदकर बचायी जान

अहले सुबह पटना से बांका जा रही इंटरसिटी ट्रेन में अचानक आग लग गई जिससे अफरातफरी मच गई। सूचना मिलते ही यात्रियों ने चलती ट्रेन से कूदकर अपनी जान बचाई।

भागलपुर [जेएनएन]। राजेंद्र नगर टर्मिनल से चलकर बांका जा रही 13242 डाउन इंटरसिटी जैसे ही नाथनगर पहुंची उसके जनरल कोच में आग लग गई जिससे यात्रियों में अफरातफरी मच गई। यात्री अपनी जान बचाने के लिए चलती ट्रेन से कूद पड़े। किसी तरह ड्राइवर ने ट्रेन को नाथनगर स्टेशन पर रोका। घटना शुक्रवार के अहले सुबह की है। ट्रेन के जनरल कोच में लगी आग ने देखते ही देखते अन्य कोच की तरफ भी बढ़ने लगी। पूरे कोच में धुआं भर गया। कई यात्री बड़ी घटना से आशंकित होकर चलती ट्रेन से कूद गए। करीब 45 मिनट तक ट्रेन नाथनगर में खड़ी रही।

दरअसल, बांका इंटरसिटी निर्धारित समय पर चल रही थी। सुल्तानगंज स्टेशन से ट्रेन सुबह 4.25 बजे खुली थी। सुल्तानगंज स्टेशन के बाद ट्रेन का ठहराव भागलपुर है। सुबह 4.35 के आसपास ट्रेन जैसे ही अकबरनगर गुजर रही थी कि जनरल कोच संख्या 06440 से धुआं निकलने लगा। यह देख कोच में सवार यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई। किसी तरह यह सूचना यात्रियों ने गार्ड और रेलवे को दी। तबतक ट्रेन नाथगनगर पहुंचने वाली थी। इसके बाद ट्रेन को नाथगनगर के एक नंबर प्लेटफॉर्म पर रोका गया। ट्रेन रुकते ही यात्री कूदने लगे। पूरी ट्रेन को खाली कराया गया।

बिजली बोर्ड में लगी थी आग, पंखे और बल्ब राख

ट्रेन में आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट बाय जाया जाता है। लगातार बारिश होने के कारण ट्रेन की छत से बारिश का पानी शौचालय के पास लगे बिजली बोर्ड में आ गया था। इस कारण बोर्ड से धुआं निकलने लगा। देखते ही देखते कोच के गई पंखे जल गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat