बिहार में चुनाव टालने को लेकर “आप” का राज्यव्यापी उपवास।

बिहार में चुनाव टालने को लेकर “आप” का राज्यव्यापी उपवास

 

बरुण कुमार:—

 

 

जहानाबाद,16जुलाई। बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव को आगे बढ़ाने को लेकर आम आदमी पार्टी ( आप) ने आज राज्यव्यापी सांकेतिक उपवास रखा। पार्टी की मांग है कि राज्य में कोरोना महामारी और प्रलयंकारी बाढ़ से जनजीवन अस्त-व्यस्त है, इस लिहाज से अभी चुनाव कराने में प्रशासनिक ऊर्जा लगाने से बेहतर है दोनों प्राकृतिक आपदा से लड़ने में यह ऊर्जा खपत की जाए।आम आदमी पार्टी ने राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव को टालने को लेकर राज्यव्यापी सांकेतिक उपवास रखा, जिसमें प्रदेश, जिला, प्रखंड, पंचायत स्तर के सभी पदाधिकारियों और हजारों कार्यकर्ताओं ने लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए हाथों में स्लोगन लिखे तख्ती लेकर इस उपवास में हिस्सा लिया। पार्टी ने इस संबंध में राज्य निर्वाचन आयोग और राज्यपाल को एक लिखित ज्ञापन भी भेजा है जिसमें उन से अनुरोध किया गया है कि बिहार में विधानसभा चुनाव कराने का यह उचित समय नहीं है बल्कि यह समय कोरोना जैसी विश्वव्यापी महामारी से लड़ने और बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदा से जनता को बचाने का समय है।

इस ज्ञापन में पार्टी ने लिखा है कि बिहार की जनता इन दोनों प्राकृतिक आपदाओं से त्रस्त है और अस्त- व्यस्त है। उनके पास रोजगार नहीं है। खाने- पीने के साधन नहीं हैं। बच्चों को मिड-डे मील नहीं मिल रहा। इसके साथ ही राज्य में विभिन्न जिलों में कोविड सेंटर नहीं बने हैं और न ही कोरोना संक्रमित लोगों के उपचार के लिए पर्याप्त बेड की व्यवस्था की गई है,कोरोना मरीजों के परिजनों तक के टेस्ट करनें में असमर्थ साबित हो रही है तीन,चार दिन बितने के बाद भी कोरोना मरीज के परिजनों(पत्नी और बच्चों )तक का जाँच नहीं किया जा रहा है,जिले के आइशोलेशन सेंटरों में मरीजों को खुद से हैंड सैनेटाइजर खरीदना पड़,रहा है,आँक्सीमीटर,वेंटिलेटर, पर्याप्त मात्रा में आँक्सीजन सिलेंडर, एम्बलेंस, डाँक्टर, नर्सो की घोर कमी है या नहीं के बराबर है और सरकार इनका प्रबंध नहीं करके चुनाव की तैयारी करनें में लगी हूई है । पत्र में यह भी लिखा गया है कि इस समय बिहार में कोरोना महामारी अपने विकराल रूप में है और प्रतिदिन डेढ़ हजार से 2000 लोग संक्रमित हो रहे हैं। साथ ही कई लोग उपचार के अभाव में मर रहे हैं। यहां की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है। इस लिहाज से आगामी विधानसभा चुनाव कराना कतई उचित नहीं है।पत्र में यह भी सुझाव दिया गया है कि राज्य सरकार द्वारा इस समय अपने जिलाधिकारियों या पदाधिकारियों-कर्मचारियों को चुनावी तैयारियों में झोंकने से बेहतर है इन दोनों प्राकृतिक आपदाओं से लोगों को निजात दिलाएं। आज के सांकेतिक उपवास- प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष सुशील सिंह, महासचिव राकेश यादव, उपाध्यक्ष मनोज कुमार,नीरज कुमार जिलाध्यक्ष जहानाबाद, उमाशंकर, उमा दफ्तुआर, राजकमल, प्रदेश मुख्य प्रवक्ता शशिकांत, प्रदेश प्रवक्ता चंद्र भूषण, गुल्फिशां युसूफ, हेम नारायण विश्वकर्मा, चिकित्सा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष डॉ पंकज गुप्ता, हिमांशु, आरएन सिंह, राजकमल,पुरुषोत्तम वत्स ,शिवेंद्र केसरी,मों वकि अहमद,नाजिश ईमाम,आदि लोगों ने सांकेतिक उपवास रखा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat