भाकपा – माले ने डॉक्टर कफील खान के रिहा करने की सबाल पर माले कार्यालय में धरना दिया गया। बरुण कुमार:—

Hहानाबाद माले जिला कार्यालय में कार्यक्रम को संबोधित माले जिला सचिव कामरेड श्रीनिवास शर्मा, माले राज्य कमिटी सदस्य कामरेड रामबली यादव, माले जिला कार्यालय सचिव कामरेडश्याम पाण्डेय, माले जिला कमिटी सदस्य सह युवा नेता कामरेड मुकेश पासवान, युवा नेता कामरेड संतोश केशरी, आदि ने किया। घोषी में युवा नेता कामरेड रविरंजन पासवान, कमलेश कुमार, मखदुमपुर में युवा नेता कामरेड वेंकटेश शर्मा, भागीरथ मांझी आदि लोग शामिल है। नेताओं ने आगे कहा कि यूपी के गोरखपुर अस्पताल में जाने-माने डॉक्टर कफील खान कार्यरत थे। 2017 में गोरखपुर के अस्पताल में सरकार के लापरवाही के कारण ऑक्सीजन के अभाव में 60 बच्चों की मौत हो गई थी। इस घटना पर डॉक्टर कफील खान ने सरकार को कड़ी आलोचना की थी। इस पर योगी सरकार इनके पीछे हांथ धोकर पड़ी हुई थी और इन्हें झूठा मुकदमा में फंसा दिया। इनको तीन बार जेल में बंद किया और राशूका लगाया। जब बिहार में चमकी बुखार की कहर थी उस समय मुजफ्फरपुर में गाँव-गाँव में जाकर इलाज किया था और मरीजों को अच्छी सलाह दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat