भारतीय सेनाओं की शहादत का चीन से बदला लिया जाए – नीरज कुमार.

 

बरुण कुमार:–

आम आदमी पार्टी जहानाबाद ने आज  चीन दुवारा भारतीय सैनिकों पर किये गए हमले के विरोध में अरवल मोड़ से कारगिल चौक तक आक्रोश प्रदर्शन में प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि भारत की जनता भारत और चीन सीमा पर शहीद हुए भारतीय सैनिकों की शहादत का बदला चाहती है। हमारे जवानों की शहादत बेकार नहीं जानी चाहिए।

 

हमारे जवानों की शहादत का भारत की सरकार चीन से बदला ले। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी चीन को मुंहतोड़ जवाब दें। नीरज कुमार ने कहा कि आम आदमी पार्टी इस मसले पर पूरी तरह से केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के साथ खड़ी है। जिलाध्यक्ष ने कहा – कल भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर देश के प्रधानमंत्री जी ने एक सर्वदलीय बैठक किया , परंतु अभी भी कुछ सवाल हैं, जिनका देश जवाब चाहता है। पहले केंद्र सरकार ने कहा कि हमारे 3 जवान शहीद हुए हैं, फिर बताया गया कि हमारे 20 जवान शहीद हुए हैं। केंद्र सरकार ने यह झूठ भी बोला कि हमारा कोई भी सैनिक चीन के कब्जे में नहीं है, परंतु परसों मीडिया के माध्यम से यह खबरें आई कि चीन ने 10 भारतीय सैनिकों को रिहा किया। अब प्रधानमंत्री जी कह रहे हैं कि चीन हमारे सीमा के अंदर घुसा ही नहीं, चीन ने हमारी कोई जमीन नहीं हड़पी, तो आखिर चीन से इतने दिनों में तनाव कम करने के लिए क्यों वार्ता की जा रही थी, हमारे 20 जवान शहीद हुए, 76 घायल हुए और 10 बंदी बनाये गए थे

 

आखिर किस लिए ।नीरज कुमार ने कहा कि जवानों की शहादत की सही जानकारी न देना, आंकड़े छिपाना, देश को गुमराह करना, सीमा विवाद जैसे मसले पर सही जानकारी देश की जनता को न देना, यह देश की जनता के साथ एक बहुत बड़ा विश्वासघात है। देश की जनता केंद्र में बैठी भाजपा सरकार से सच जानना चाहती है।जिलाध्यक्ष ने दिल्ली में हुई ऑल पार्टी मीटिंग में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी को न्यौता न दिए जाने के मुद्दे पर अपना मत रखते हुए कहा कि दिल्ली की जनता द्वारा तीन बार चुने गए मुख्यमंत्री को दिल्ली में ही होने वाली ऑल पार्टी मीटिंग में न बुलाना केंद्र में बैठी भाजपा सरकार की क्षीण मानसिकता को दर्शाता है और पूरा देश उनकी इस घृणित मानसिकता का विरोध करता है ।साथ ही कहा कि पूरे देश में सैनिकों की शहादत पर हर शहीद परिवार को 1 करोड़ की सम्मान राशि दी जाए ।
आज के कार्यक्रम में नाजिश इमाम, अजय वर्मा,शिवेन्द्र केसरी,तपेश्वर सिंह हेगड़े,वालेश्वर यादव,नीतिन कुमार, प्रियनाथ कुमार, मो.वकि अहमद,विमलेश जी,शिबू,रामानुज शर्मा,सुजित कुमार,दिलशाद,धनंजय पांडेय आदि शामिल थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat