मंदिरों में पूजा अर्चना व माथा टेकने को भी उमड़ी लोगों की भीड़…

*रत्नेश कुमार*

पहली जनवरी को सर्दी के प्रकोप ने आम जनजीवन को पूरी तरह अस्त व्यस्त कर रखा दिया।इसका असर नववर्ष के जश्न की खुमारी पर भी देखने को मिला।मंदिरों में पूजा -अर्चना व माथा टेकने को उमड़ती रही लोगों की भीड़।बच्चे,नौजवान,महिलाएं और बुढे सभी लोग एक साथ दिखे।सभी ने बढियां से सबसे पहले पूजा-अर्चना कर के साल का पहला दिन का सुरूआत किया।

कहीं लिट्टी चोखा की पार्टी तो कहीं लोग अपने पूरे परिवार के साथ पिकनिक मनाते पार्क और रेस्टोरेंट व होटलों में भी देखे गये।कहीं कहीं पर ड़ीजे बजा कर नाचते-गाते,साथ में भोजपुरी गाने पर बच्चों के टोली को थिरकते देखा गया।तो कहीं मेले में झूले का आंनद लेते छोटे-छोटे बच्चे अपने माता-पिता के साथ देखे गए।पूरे दिन नया साल के जश्र मनाने का दौड़ चलता रहा।पटना के पिकनिक स्पॉटों पर बच्चों और युवाओं को खुब मौज मस्ती करते देखा गया।*बुढ-बुजूर्ग ठंड से घरों में ही दूसके रहे*अहले सुबह उत्साही युवक तो जश्न जरूर मना रहे थे।लेकिन बुजूर्ग लोग अपने घरों में ही दूबके थे।इस वर्ष भले ही सर्दी कुछ देर से आई हो लेकिन अपना प्रकोप वह इस कदर दिखाने लगी है।कि सुबह-शाम लोगों को घरों से निकलना मुश्किल होता जा रहा है। कुहासा रहने के कारण सूर्य देवता भी समय पर दर्शन नहीं दे पाए। सुबह होते ही अरवल और जहानाबाद में बूंदाबांदी हुई जिसके कारण लोगों को घरों से निकलना मुश्किल हो गया।*15 जनवरी तक सर्दी से राहत नहीं मिलेगी* दिन में तो कुछ राहत लोगों को जरूर मिली लेकिन शाम ढलते ही फिर शीत लहर का प्रकोप इस कदर हावी हो गया कि,देर रात तक जश्न मनाने की मंसा रखने वाले युवा भी शाम होते ही घर की ओर रूख करने को मजबूर हो गए।मौसम विभाग के लोगों ने बताया कि सर्दी में और अधिक इजाफा होगी।न्यूनतम तापमान इससे भी नीचे जा सकती है। कुहासे की आशंका से भी इंकार नहीं किया जा रहा है।ऐसे में ठंड और अधिक बढ़ने की संभावना प्रबल हो गई है। 15 जनवरी तक सर्दी में कोई कमी आने का आसार नहीं है। बताते चलें कि इस वर्ष सर्दी कुछ देर से अपना प्रभाव दिखाना शुरू की थी।लेकिन उसका प्रभाव दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है।सुबह जरूरी कार्य से घर से बाहर निकलने वाले लोग काफी कठिनाई महसूस कर रहे हैं।इस कड़ाके की सर्दी में रैन वसेरों तथा सार्वजनिक स्थानों पर रात बीताने को मजबूर लोगों की हालत काफी खराब हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat