LIVE24X7

मानवता को शर्मसार करने वाली बीभत्स घटना।

सूरज राजपूत:—-

मानवता को शर्मसार करने वाली बीभत्स घटना।

यूपी: छह साल की मासूम से हैवानियत, सामूहिक दुष्कर्म के बाद गुर्दे-आंतें निकालीं, गला काट सिर फोड़ा फिर खाया दिल।

दिवाली की रात घाटमपुर के एक गांव में दिल दहला देने वाली वारदात हुई। दरिंदों ने दरिंदगी की सारी हदें पर कर दीं। पहले छह साल की मासूम बच्ची के साथ दो सगे भाइयों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद गला काटकर हत्या कर दी। उसका दिल, गुर्दा, आंतें निकालीं और सिर फोड़ दिया। इसके बाद आरोपियों का चाचा बच्ची का दिल खा गया।
संतान प्राप्ति के चक्कर में दंपति ने अपने भतीजों के साथ मिलकर इस वीभत्स घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने सोमवार शाम को घटना का खुलासा कर आरोपी भाइयों को जेल भेज दिया, जबकि दंपति को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। घाटमपुर के एक गांव से दिवाली (शनिवार) की शाम को छह साल की बच्ची लापता हो गई।
रात भर परिजनों ने उसकी खोजबीन की। रविवार सुबह ग्रामीणों को बच्ची का क्षतविक्षत शव गांव के बाहर भद्रकाली मंदिर के पास पड़ा मिला। एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि परिजनों के आरोपों के आधार पर गांव के अंकुल और वीरन को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। दोनों आरोपियों ने 24 घंटे बाद जुर्म कुबूला। बताया कि चाचा परशुराम और चाची सुनैना के कहने पर वारदात को अंजाम दिया।
एसपी ने बताया कि परशुराम और सुनैना की शादी 21 साल पहले हुई थी लेकिन उनके कोई संतान नहीं थी। इसलिए उन्होंने तंत्रमंत्र के चक्कर में आने के बाद किसी बच्ची का दिल खाने की बात अपने भतीजों अंकुल व वीरन से कही। यह भी कहा कि ऐसा अगर दिवाली की रात ही कर लेते हैं तो उनके संतान हो जाएगी। इसलिए अंकुल और वीरन बच्ची को बहला फुसलाकर गांव के बाहर ले गए। उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और हत्या कर दी। इसके बाद बच्ची के अंग निकालकर चाचा के घर पहुंच गए। 
बरामद नहीं हुए अंग, दिल खा गया परशुराम,
एसपी ग्रामीण ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद अंकुल व वीरन बच्ची के अंग पॉलिथीन में भरकर परशुराम के घर पहुंचे। परशुराम दिल को निकालकर कच्चा खा गया। उसके बाद बाकी अंग गांव बाहर कहीं फेंक दिए। हालांकि उनकी बरामदगी नहीं हो सकी है। आरोपियों की निशानदेही पर परशुराम के घर से ही आलाकत्ल चाकू बरामद किया गया है। अंकुल व वीरन को जेल भेज दिया गया है। दंपति ने भी वारदात कबूली है। 
नशे में धुत थे आरोपी,

कबूलनामा सुन अफसर भी हैरान।

अंकुल और वीरन ने जब वारदात की तब वे नशे में धुत थे। शराब, गांजा पीने के साथ ही भांग भी खा रखी थी। 24 घंटे बाद दोनों ने मुंह खोला। एसपी ने बताया कि एक दिन तक दोनों बात करने की स्थिति में नहीं थे। नशा खत्म होने के बाद जब वारदात कबूली तो घटनाक्रम सुनकर अफसर भी हैरान रह गए।
आरोपियों ने वारदात कबूली है। दो जेल भेजे गए हैं। दंपति से पूछताछ की जा रही है। संतान की प्राप्ति के चक्कर में तंत्रमंत्र कर इतनी वीभत्स वारदात को अंजाम दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat