LIVE24X7

मैन पावर संस्था ने मसरूम की खेती का किसानों को दिया प्रशिक्षण!

मशरूम की खेती स्वरोजगार का एक अच्छा माध्यम

मशरुम का खेती आमदनी का अच्छा स्रोत

बालूमाथ बालूमाथ प्रखंड अंतर्गत दुर्गा मंडप भवन में रविवार को मेन पावर संस्था के बैनर तले रांची के ट्रेनर द्वारा लातेहार के जिले भर के किसानों को प्रशिक्षण दिया गया संस्था के झारखंड स्टेट मैनेजर राहुल कुमार एवं संतोष कुमार, प्रभु मंडल ने ट्रेनिंग में उपस्थित महिला एवं पुरुष किसानों को मशरूम की खेती के तरीके और नियम को विस्तार पूर्वक बतलाते हुवे कहा कि मशरूम की खेती एक कमरे में किया जा सकता है यह बहुत ही सहज और आसान तरीका है जिसमें बहुत ही कम लागत पर अच्छी मुनाफा होता है 10 किलो बीज को एक 10/ 10 के कमरे में 5700 रुपैया की लागत मूल्य पर 30-60 दिनों में फसल तैयार है और इसे फसल को बेचकर 15-20 हजार से भी ज्यादा पैसा कमाया जा सकता है यह संस्था बीज के साथ साथ खेती करने की सभी सामग्री उपलब्ध कराएगी एवं बाजार की भी व्यवस्था है इसके साथ-साथ संस्था द्वारा किसान को मशरूम की खेती करने का प्रशिक्षण सर्टिफिकेट भी देती है जिसके माध्यम से किसान फसल उपज में विस्तार करने के लिए बैंक से लोन भी ले सकता है साथ ही साथ संस्था से जुड़कर किसान किसी दूसरे किसान को मशरूम की खेती करने का प्रोत्साहित करता है तो उस किसान को ₹400 संस्था की ओर से प्रति किसान प्रशिक्षण देने पर दिया जाता है बता दें कि बालूमाथ प्रखंड के अंतर्गत विभिन्न गांव में दर्जनों लोग मशरूम की खेती करके लाभान्वित हो रहे हैं और अपन आर्थिक स्थिति में बढ़ोतरी कर रहे हैं यह स्वरोजगार का एक अच्छा माध्यम साबित हो रहा है मौके पर ललन सिंह नरेश लोरा रूपा देवी, अनीता देवी ,सरिता देवी ,राजेश्वरी देवी (प्रमुख हेरंज) बिजेंदर उरांव, सुरेश गंझु, कार्तिक उरांव, सुनीता देवी, संजय गंझु सहित लातेहार जिले के विभिन्न प्रखंडों से आए दर्जनों महिला-पुरुष शामिल थे

रिपोर्ट अजित कुमार के साथ बद्री गुप्ता लातेहार ब्यूरो की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat