युवक की मौत शास्त्री नगर के नंद गांव में घटना युवती की हालत गंभीर।

पटना से रत्नेश कुमार का रिपोर्ट

युवक ने घर में घुसकर प्रेमिका को मारी गोली फिर खुद को भी उड़ाया।शास्त्री नगर थाने के पास नंद गांव में शुक्रवार की लगभग 7:30 बजे एक युवक ने अपनी प्रेमिका के सिर में गोली मार दी इसके बाद अपनी कनपटी में भी गोली मार ली। युवक की मौत मौके पर ही हो गई युवती का इलाज

पाटलिपुत्र के एक नर्सिंग होम में चल रहा है युवक चेतन आनंद सीतामढ़ी के परिहार गांव का रहने वाला था। उसके पिता रामाधार सिंह सीतामढ़ी में गिट्टी बालू का व्यवसायिक करते हैं। यूटीवी सीतामढ़ी के ही रहने वाली है वह अपनी छोटी बहन के साथ नंद गांव में किराए के मकान में रहती है वह एल एन मिश्रा इंस्टीट्यूट में एमबीए फास्ट ईयर की छात्रा है वही उसकी छोटी बहन जेडी विमेंस कॉलेज में पढ़ती है उनके बड़ी बहन मुंबई में रहती है वह 3 दिन पहले अपने पति के साथ नंद गांव आई है घटना की सूचना मिलते ही डीएसपी सचिवालय राजेश प्रभाकर और शास्त्री नगर थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई है। एफएसएल की टीम ने भी जांच किए। जांच में पता चला कि चेतन शुक्रवार को ही सीतामढ़ी से पटना आया वह सुबह लगभग 7:00 बजे नंद गांव पहुंचा था उसने दो बार यूपी के घर का कॉल बेल बजाया और लेकिन जब उसकी बड़ी बहन ने दरवाजा खोला तो वहां कोई नहीं था तीसरी बार फिर कॉल बेल बजाया और उसके दरवाजा खोला तो चेतन सामने था।

चेतन ने उससे कहा कि वह कचरा लेने आया है यूपी की बड़ी बहन ने पुलिस को बताया कि मैं जैसे ही कचरा लाने किचन में गई चेतन आनंद आ गया वह युवती के कमरे में घुसा और उसके सिर में गोली मार दी उस समय वह सो रही थी गोली की आवाज सुनकर उसकी बड़ी बहन किचन से बाहर आई तो चेतन उस पर भी पिस्तौल तान दी और चुप रहने को इशारा किया तब तक वह कुछ समझ पाती तब तक चेतन ने खुद की कनपटी में गोली मार ली।डेढ़ सालों से दोनों में था अफेयर 2 महीने से बनती बातचीतहिसार से सीतामढ़ी से ही दोनों की जान पहचान थी डेढ़ सालों से अफेयर था यह बात यूपी की छोटी बहन ने पुलिस को बताई दोनों बहने 6 महीने पहले पटना गई थी चेतन सीतामढ़ी में ही रह रहा था वह सीए की तैयारी करता था बाद में पिता की व्यवसाय में हाथ बांटने लगा इस बीच दोनों में दूरियां बढ़ती गई 2 महीने से बातचीत भी बंद थी वहीं कुछ लोगों का कहना है कि चेतन की शादी तय होने वाली थी लेकिन युवती अभी शादी के लिए तैयारी नहीं हो रही थी। इस बीच को लेकर दोनों को बीच मनमुटाव चल रहा था इसी बात से चेतन नाराज थाछटपटा रही थी युति पुलिस ने राजा बाजार के अस्पतालों में भर्ती करायादोनों को गोली लगते हैं युवती की बड़ी बहन चिल्लाने लगी तब तक उसके पति और छोटी बहन भी जग गई छोटी बहन नहीं युवक की पहचान की आवाज सुनकर मकान मालिक सेकंड फ्लावर से फर्स्ट फ्लावर पहुंची उन्होंने कहा कि मैं थाने की तरफ भागा तो रास्ते में पुलिस की जिप्सी मिल गई पुलिस मौके पर पहुंची तब युवती छटपटा रहे थी पुलिस ने तत्काल उसे राजा बाजार स्थित अस्पताल में एडमिट कराया जहां से दोपहर बाद परिजनों पाटलिपुत्र स्थित अस्पताल ले गए।लड़की ने लिखा जिंदगी में आगे बढ़ना है तो पटना में रहना होगा लड़के ने मौत ही मोक्ष हैलड़की ने कई प्रेम पत्र चेतन को लिखे थे जिन्हें पुलिस ने बरामद किया है एक पत्र में लड़की ने लिखा है जिंदगी में आगे बढ़ना है तो पटना में रहना ही होगा। वहीं पुलिस ने चेतन की जींस से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है सुसाइड नोट में चेतन ने घटना के लिए खुद को जिम्मेदार बताया और लिखा है मौत मोक्ष है लड़की के कमरे से एफएसएल और पुलिस की टीम ने एक पिस्टल दो खोखा एक डायरी कुछ प्रेम पत्र एक सुसाइड नोट दोनों के तीन मोबाइल जप्त किया हैशादी में पटना आई है बड़ी बहन पति है कोरियोग्राफरयूपी की बड़ी बहन अपने एक दोस्त की शादी में शरीक होने के लिए 26 नवंबर को पटना आई थी वह मुंबई से एक कंपनी में एचआर है और उसके पति कोरियोग्राफर है बहन ने कहा मैं अपने दोस्त की शादी के लिए पटना आई थी क्या पता था कि यह सब हो जाएगा।यूपी ने फेसबुक पर लिखा था मौत से बेखबर जिंदगी का यह सफरबड़ा सवाल प्रेमी को कैसे पता चला कि प्रेम का किस कमरे में हैमौत से जूझ रही 6 नवंबर को अपना जन्मदिन मनाया था जन्मदिन की कई तस्वीर फेसबुक पर अपलोड कर रखी है कुछ ही दिन पहले उसके एफबी पर लिखा मौत से बेखबर जिंदगी का यह सफर युवती कि दोस्तों ने भी कहा कि वह काफी जाॅली मूड की लड़की है पढ़ाई में अच्छी है अब तक की जांच में सबसे बड़ा सवाल यह है कि चेतन को कैसे पता चला कि उसकी प्रेमिका किस कमरे में सोई हुई है। जिस घर में युवती रहती है वह तीन कमरे का है एक कमरे में उसकी बड़ी बहन अपने पति के साथ थी बीच वाले कमरे में वह थी और सबसे आखरी कमरे में सबसे छोटी बहन सो रही थी ।युवती की बड़ी बहन को कहना है कि युवक बहाना कर आया और सीधे मंझली बहन के कमरे में जाकर उसके सिर में सटाकर गोली मार दी युवक कई बार कमरे पर आया था इसलिए उसे इस बात की जानकारी थी वह तीन कमरे है दूसरा सवाल जिसका जवाब पुलिस तलाश रही है कि आखिर चेतन के पास पिस्तौल कहां से आया और उसके बैग में खाली मैगजीन कैसे पड़ी थीचार बहनों मैं अकेला भाई था चेतनचेतन चार बहनों का अकेला भाई था वह अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था चेतन की स्कूलिंग पटना में ही हुई थी स्कूलिंग के बाद सीए की तैयारी करने दिल्ली चला गया। लेकिन कुछ साल बाद हुआ सीतामढ़ी लौटाया वह अपने पिता की व्यवसाय में हाथ बंटाने लगा और साथ में ट्यूशन भी पढ़ाता था पुलिस को चेतन के बैग से डायरी मिली है जिसमें दोनों को बीच कई राज दफन है चेतन के बहनोई अनीश कुमार सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद गुलबी घाट पर उसका दाह संस्कार कर दिया गया पिता ने मुखाग्नि दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat