रंगोली के माध्यम से बच्चों ने बनाया चंद्रयान2

मनोरंजन पाठक छपरा

छपरा नगर| रंगोली निर्माण एक ऐसी परंपरा है जिसके नाम से ही मन में उत्साह भर आता है वैसे तो विभिन्न आयोजनों मे रंगोली बनाई जाती है कई तरह के रंगीले फुलों व रंगो से तैयार किया गया रंगोली अपनी ओर आकर्षित करता है वही दिपावली के अवसर पर रंगोली की महता दुगुनी हो जाती है उसकी महता और बढ़ जाती है

जब उसे घर परिवार के महिला सदस्यों के अलावे जब छोटे बच्चों द्वारा तैयार किया गया हो. ऐसे ही सिलसिले को अनुठी पहचान देते हुए छपरा शहर के महात्मा हंसराज पब्लिक स्कूल के छात्रों द्वारा आकर्षक रंगोली बनाई गई. रंगोली के माध्यम से बच्चों ने प्रेरणादायी संदेश को प्रदर्शित करते हुए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान केन्द्र इसरो के द्वारा हाल ही में छोड़े गए चंद्रयान 2

को दर्शा कर बच्चों ने पुन: इसरो के वैज्ञानिको के हौसले को बुलंद करते हुए कहा कि हम सभी छात्रो को प्रेरणा लेनी चाहिए कि चंद्रयान को उसके मंजिल तक पहुंचाने के लिए प्रयासरत जैसे हमारे वैज्ञानिक अडिग है वैसे ही हम छात्रों को अपने लक्ष्य के प्रति सजग रहते हुए उसपर विजय पाने की कोशिश करनी चाहिए. रंगोली निर्माण मे वर्ग एक से अष्टम वर्ग के छात्र छात्राओं ने सक्रिय भूमिका निभाई.दीपावली के पूर्व रंगोली के माध्यम से बच्चों के बीच सामाजिक जागरूकता बढ़ाना व पारम्परिक संस्कार के प्रति निष्ठावान बनाना भी विद्यालय का उद्देश्य है.

इसके लिए ही विभिन्न आयोजन के माध्यम से बच्चों को जागरूक किया जाता है. इस दौरान विद्यालय के सभी शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारी, छात्र व अभिभावक मौजूद रहे.बाइट प्राचार्य अशोक कुमार सिंह व शिक्षक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat