राजधानी के सटे बिहटा मे एक 12 वर्ष के बच्चे का शव फांसी के फंदे से लटका हुआ मिलने से इलाके में सनसनी।

बिहटा से रत्नेश कुमार

पटना राजधानी से सटे बिहटा के स्वामी सहजानंद सरस्वती के आश्रम के बगल में स्थित एक पुटपाथ होटल में 12 साल के बच्चे का शव फांसी के फंदे पर लटकता मिलने से ईलाके में सनसनी फैल गई। बच्चा कक्षा पांच का छात्र था। घटना से कुछ समय पहले वो खेल रहा था। इस हादसे के बाद बच्चे के परिवार में कोहराम मच गया है।

इसकी सुचना पुलिस को मिली तो मौके पर पहुँच कर शव को कब्जे में लेकर इस मामले की जांच शुरू कर दी है। मृतक की पहचान बिहारारशरीफ ,सरमेरा थाना क्षेत्र के सौंदहीह गांव निवासी अखिलेश चौहान का 12 वर्षीय पुत्र पवन कुमार के रूप में की जा रही है। बताया जाता है कि पवन कुमार बिहटा अपने नानी के यंहा रहकर पढ़ाई कर रहा था। वही स्कूल से आने के बाद नानी के होटल में उनका हाथ बटाया करता था। मिली जानकारी के अनुसार पड़ोस के फल दुकानदार के साथ झगड़ा हुआ था। जो झगड़ा के दौरान बदला लेने की धमकी दिया था । पवन शाम को घर से बाहर खेलने गया था लेकिन देर शाम तक घर वापस नही आने पर जब परिजन खोजने के लिये घर से बाहर निकले थे। जब आसपास नही मिलने पर घर लौटने के दौरान घर के मुख्य गेट के समीप पवन का शव एक रस्सी के फंदे दे लटका हुआ है। हांलाकि पुलिस इसे फिलहाल हत्या का मामला मान रही है। पुलिस का अनुमान है कि पहले बच्चे की हत्या की गई और उसके बाद गले में फंदा लगाकर आत्महत्या का रूप दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat