राजस्थान में 31 मार्च को बंद हो जाएगा भामाशाह कार्ड, 1 अप्रैल से मिलेगा जन आधार कार्ड

जयपुर:- मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मंत्रिमंडल ने पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के समय जारी किया गए भामाशाह कार्ड को 31 मार्च के बाद बंद करने का निर्णय लिया गया है। इसकी जगह 1 अप्रैल से नया जन आधार कार्ड लागू होगा, जिसके आधार पर सभी प्रदेशवासियों को स्वास्थ्य बीमा योजना सहित सभी तरह का लाभ मिल सकेगा।मुख्यमंत्री कार्यालय में बुधवार को मंत्रिपरिषद की बैठक में यह फैसला लिया गया है। चिकित्सा एवं डीआईपीआर मंत्री रघु शर्मा ने मंत्रिमंडल की बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी देते हुए बताया कि मंत्रिपरिषद की बैठक में पहले सरकुलेशन से पारित किए गए निर्णयों का अनुमोदन किया गया है।

इसके साथ ही सहरिया बारां जिले में अनुसूचित जनजाति को 5% आरक्षण और इस क्षेत्र के सवर्णों को 10% आरक्षण देने का निर्णय लिया है। ऐसे में अब सहरिया में आरक्षण की सीमा बढकर 64% हो जाएगी।इसी तरह मंत्री परिषद ने चार जिलों बाड़मेर जैसलमेर हनुमानगढ़ और जोधपुर में 1388 अभावग्रस्त गांव, जिनमें 33 परसेंट से ज्यादा खराबा हुआ था। इन गांव के लिए केंद्र सरकार से राहत पैकेज की मांग की है। इसके लिए केंद्र की टीम जल्दी आने वाली है। इसी तरह मंत्री परिषद ने 20 जिले जिनमें अतिवृष्टि से कई तरह का नुकसान हुआ था उनके लिए केंद्र सरकार से एनडीआरएफ फंड से 2645 करोड़ की मांग की है। इसे लेकर केंद्र सरकार की टीम यहां पर सर्वे कर चुकी है सभी जिला कलेक्टरों को इन जिलों में क्षतिग्रस्त मकानों की सहायता के लिए 16 करोड रुपए की राशि मुहैया करवाई गई है, जो प्रभावितों को दी जा रही है। अगर जरूरत पड़े तो नए प्रस्ताव भी लिए जाएंगे और कलेक्टर के स्तर पर राशि स्वीकृत की जा सकेगी। रघु शर्मा ने बताया कि मंत्रिपरिषद ने सरकार के 1 साल पूरा होने पर 3 दिन कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया है इसमें पहले दिन 16 दिसम्बर को 7:30 बजे रंग फोर निरोगी दौड़ आयोजित की जाएगी इसके बाद सुबह 10:30 बजे जवाहर कला केंद्र में वर्ष एक फैसले अनेक थीम पर एक प्रदर्शनी आयोजित की जाएगी जिसमें सभी विभागों की उपलब्धियों को दर्शाया जाएगा इसके बाद दोपहर 12:30 बजे विद्याधर नगर में किसान सम्मेलन आयोजित होगा।अगले दिन 18 दिसंबर को निरोगी राजस्थान अभियान की शुरुआत होगी इसके तहत वाल्मीकि नगर जगतपुरा में जनता क्लीनिक योजना की शुरुआत होगी । इसके साथ ही मुख्यमंत्री जन आधार कार्ड की लांचिंग करेंगे। जन आधार कार्ड को एक अलग ही यूनिक नंबर दिया जाएगा मौजूदा भामाशाह कार्ड 31 मार्च तक चलेगा इसके बाद यह काम नहीं करेगा इसकी जगह 1 अप्रैल से जन आधार कार्ड काम करना शुरू कर देगा। जन आधार कार्ड से हेल्थ कार्ड को भी जोड़ा जाएगा। इसमें हर आदमी की एक हेल्थ केस स्टडी होगी, जिसमें सभी तरह की उसमें डिटेल मौजूद होगी। इन्ही कार्यक्रमों की श्रंखला में आई एम शक्ति योजना का भी मुख्यमंत्री शुभारंभ करेंगे। इस योजना के तहत महिला सशक्तिकरण का कार्य होगा, जिसमें हर साल करीब 200 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। तीसरे दिन अर्थात 19 दिसंबर को सुबह 10:30 बजे एमएमएमई कॉन्क्लेव होगा यह कॉन्क्लेव औद्योगिक विकास की थीम पर आयोजित होगा इसके बाद एमएनआईटी में एक समिट होगी, जिसमें नवाचार करने वाले 100 स्टार्टअप के लोगों को आमंत्रित किया गया है इसी दिन सभी जिला मुख्यालय पर एक प्रदर्शनी आयोजित की जाएगी जिसमें सभी जिला प्रभारी मंत्री शामिल होंगे और हर जिलों में सरकार की उपलब्धियों को लेकर जनता और प्रेस को संबोधित करेंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat