लक्ष्मणगढ़ की राजनीति मे दोहरा इतिहास रच रिकार्ड कायम किया है श्रीमती जोशी ने*

लक्ष्मणगढ़ की शख्सियत

*लक्ष्मणगढ़ की राजनीति मे दोहरा इतिहास रच रिकार्ड कायम किया है श्रीमती जोशी ने*

*पहली महिला पालिका अध्यक्ष बनने व पांच वर्ष तक लगातार चैयरमैन के पद पर बने रहने का भी रिकार्ड बनाया है श्रीमती संतोष ने*

लक्ष्मणगढ़ (सीकर) 12 जुलाई नगरपालिक मंडल की स्थापना के बाद श्रीमती संतोष जोशी पहली महिला नगरपालिक अध्यक्ष बनने का गौरव हासिल किया है 24 अगस्त 2005 को पालिका अध्यक्ष के रूप मे अपना पदभार ग्रहण करने वाली श्रीमती संतोष जोशी ने लक्ष्मणगढ़ की राजनीति मे दोहरा इतिहास रचकर रिकार्ड भी कायम किया है श्रीमती जोशी ने पालिक बोर्ड स्थापना के बाद जहां पहली महिला पालिका अध्यक्ष बनकर इतिहास रचा वहीं पालिका अध्यक्ष के रूप मे पहली मर्तबा पांच साल तक लगातार चैयरमैन बनने का भी कीर्तिमान स्थापित किया है इससे पहले ना तो कोई महिला पालिका अध्यक्ष रही और ना ही किसी पालिका अध्यक्ष ने पूरे पांच साल तक बोर्ड पर राज किया हालांकि इसके बाद बने पालिका अध्यक्षो ने अपना कार्यकाल पांच साल तक का पूरा किया।
लक्ष्मणगढ़ नगरपालिका की स्थापना 1945 मे हुई तथा प्रथम मनोनीत अध्यक्ष के रूप मे छगनलाल चौखानी अध्यक्ष बने जबकि पहला निर्वाचित बोर्ड़ 1956 मे बना उस समय शहर मे चार वार्डो बने हुए थे, जबकि 1964 मे 13 वार्ड बने बाद मे वार्डो की संख्या बढकर 24 हुई तथा 1995 मे 30 वार्ड और 2020 मे 40 वार्डो मे चुनाव होने है।
श्रीमती जोशी के पति सुभाष जोशी सामाजिक कार्यकर्ता के रूप मे जाने पहचाने जाते है, वर्तमान मे राजस्थान ब्राह्रण महासभा लक्ष्मणगढ़ के तहसील अध्यक्ष है तथा पिछले 27 वर्षो से मोदी शिक्षण संस्थान मे कार्यरत है श्रीमती जोशी का जन्म फतेहपुर के मनीराम शर्मा गुरूजी के घर 1971 मे हुआ मैट्रीक तक शिक्षित श्रीमती जोशी के पिहर व ससुराल पक्ष मे कोई राजनैतिक गतिविधियो से जुड़ा हुआ नहीं बावजूद इसके अपने पांच साल के कार्यकाल मे लक्ष्मणगढ़ मे विकास कार्यो मे एक नया आयाम स्थापित किया। इनके ससुर स्व. नथमल जोशी नगरपालिका के सेवानिवृत कर्मचारी रहे है, तथा इन्हे के परिवार के फणीन्द्र जोशी जो लम्बे समय तक पार्षद रहे है, तो व्यवसायी महावीर प्रसाद नाऊवाला के मार्गदर्शन व प्रेरणा तथा पूर्व मंत्री व तत्कालिन लक्ष्मणगढ़ व वर्तमान धोद विधायक परसराम मोरदिया के नेतृत्व मे राजनीति के मैदान मे पहली बार उतरकर जीत हासिल की व चैयरमैन बनी अपने कार्यकाल की विशेष उपलब्धी 2006 मे प्रवासी सम्मेलन करवाना बताया उक्त सम्मेलन जाने माने समाजसेवी शिक्षाविद स्व.सावर शर्मा व बगड़िया स्कूल के सचिव पवन गोयनका की प्रेरणा व सहयोग से आयोजित करवाया। प्रवासी सम्मेलन के माध्यम से शहर मे अनेक विकास कार्य करवाये एवं लक्ष्मणगढ़ मे नवीन बस स्टेण्ड के लिए वन विभाग के माध्यम से जमीन उपलब्ध करवाई तथा मोदी स्कूल के सहयोग से सिवरेज प्रोजेक्ट तैयार करा तत्कालिन विधायक व शिक्षामंत्री गोविन्द सिह डोटासरा के माध्यम से प्रस्ताव राज्य सरकार को सौपा व गन्दे पानी की निकासी के लिए योजना तैयार कर मोटर पंप लगवाये।
पहली बार राजनीति की पायदान पर चढ़कर पालिकाध्यक्ष तक का सफर तय करने वाली श्रीमती जोशी पिछले करीब 10 वर्षो से राजनीति से पूरी तरह दूर है

*राजेश (राजू) सैनी पत्रकार-फोटोजर्नलिस्ट*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat