लैंडमाइंस विस्फोट में एक ग्रामीण की मौत घटनास्थल पर ही हो गयी जबकि एक अन्य ग्रामीण बुरी तरह घायल

लातेहार के सदर थाना क्षेत्र के नावागढ़ पंचायत के गुज़रबंधा जंगल में गुरुवार की दोपहर लैंडमाइंस विस्फोट में एक ग्रामीण की मौत घटनास्थल पर ही हो गयी जबकि एक अन्य ग्रामीण बुरी तरह घायल हो गया। इस घटना में कम से कम छह अन्य ग्रामीण बाल बाल बच गए।


घटना के जानकारी शुक्रवार को हुयी। मृतक की पहचान नरेशगढ़ के झनका टोला के रहने वाले एतवा परहिया (35) के रूप में की गयी है। घायल सूरज परहिया (25) घघरी के नवाटोली का रहने वाला है। घायल को शुक्रवार को इलाज के लिए सदर अस्पताल लातेहार लाया गया है।
बता दें कि लातेहार थाना क्षेत्र का यह हिस्सा अति उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र रहा है। हालांकि इस क्षेत्र में सुरक्षाबलों की चौकियां बनने से क्षेत्र में माओवादी गतिविधियों पर अंकुश लगा है।
घटना के बारे में ग्रामीणों ने बताया कि गुरुवार को सुबह नौ बजे ग्रामीणों की एक टोली बांस काटने के लिए गुजरबंधा जंगल गयी थी। इस दल में एक ही परिवार के चार सदस्यों सहित कुल सात लोग शामिल थे।
घटना में बाल बाल बचे महरंग परहिया ने बताया, “बांस काटने के क्रम में लगभग दो बजे जमीन में गड़ा बम विस्फोट कर गया और एतवा परहिया की मौके पर ही मौत हो गयी। जबकि मेरा पुत्र सुरज घायल हो गया।”
मौके पर महरंग के दो और पुत्र सुदर्शन परहिया (20) और राकेश परहिया (25) भी मौजूद थे जो बाल बाल बच गए। ग्रामीणों ने बताया कि इस घटना में बिनोद परहिया (16) और जोरू परहिया (22) भी बाल बाल बचे।
मौके पर पुलिस ने पहुँच कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। हालाँकि तुरंत यह स्पष्ट नहीं हो सका कि लैंडमाइंस हाल में ही लगायी गयी थी अथवा इस नक्सलियों ने काफी पहले लगाया था। रिपोर्ट कैमरा मैन राहुल कुमार के साथ बद्री गुप्ता लातेहार ब्यूरो की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat