लोक शिकायत के तहत 20 मामलों की हुई सुनवाई।

गया से धीरज कुमार की रिपोर्ट।:–


गया  लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम, 2015 के तहत द्वितीय अपील में ज़िला पदाधिकारी, गया श्री अभिषेक सिंह के द्वारा 20 मामलों में सुनवाई की गयी, जिनमें 02 मामले सेवा शिकायत के भी थे सुनवाई के क्रम में कुछ मामलों का निष्पादन *ऑन द स्पॉट* किया गया है
बेलागंज प्रखंड के जगदंबा पंचायत के अपीलार्थी *श्री महेश शर्मा* के अनुसार सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर खेती एवं अन्य कार्य कर अतिक्रमण करने एवं इसी भूखंड पर दर्जनों एकड़ में लगे शीशम के पेड़ को अवैध तरीके से काटकर बेचे जाने से संबंधित शिकायत की गई थी। प्रथम अपीलीय प्राधिकार की सुनवाई में पेड़ों के संरक्षण एवं भूमि की देख रेख हेतु अंचलाधिकारी प्राधिकृत होते हैं। परंतु इस वाद की सुनवाई में अंचलाधिकारी, बेलागंज द्वारा न कोई प्रतिवेदन दिया गया न ही सहयोग किया गया, जिसके कारण अपीलीय प्राधिकार द्वारा अंचलाधिकारी, बेलागंज के विरुद्ध कार्रवाई की अनुशंसा की गई थी। आज सुनवाई के क्रम में जिलाधिकारी द्वारा भी अन्य वादों में अंचलाधिकारी, बेलागंज को निर्देशित किया जाता रहा, परंतु उनके द्वारा कार्य ससमय नहीं किया जाता रहा है। प्रथम अपीलीय प्राधिकार की अनुशंसा के आलोक में जिलाधिकारी द्वारा अंचलाधिकारी, बेलागंज पर प्रपत्र ‘क’ गठित करने हेतु राजस्व पदाधिकारी, गया को निर्देशित किया गया। राजस्व पदाधिकारी, गया द्वारा उक्त पत्र को संलग्न कर भूमि सुधार उप समाहर्ता, सदर को अग्रेतर कार्रवाई करने हेतु पत्र दिया गया, परंतु उनके द्वारा प्रपत्र ‘क’ गठित नहीं किया गया,जिसके कारण भूमि सुधार उप समाहर्ता,सदर पर 1000 रुपये का अर्थदंड लगाते हुए अगली सुनवाई में अंचलाधिकारी बेलागंज के विरुद्ध प्रपत्र ‘क’ गठित कर प्रतिवेदन सहित उपस्थित होने का आदेश दिया गया है


बुनियादगंज, लखीबाग, मानपुर के अपीलार्थी *श्री सुनील कुमार* द्वारा गलत कागज के आधार पर सरकारी जमीन को कब्जा करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज कराने एवं जांच के संबंध में अपील वाद दायर किया गया था जिसमें अंचलाधिकारी, मानपुर को पूर्व में जांच करने हेतु निर्देशित किया गया था,परंतु अंचलाधिकारी,मानपुर द्वारा जांच कर जांच प्रतिवेदन सुनवाई के क्रम में उपलब्ध नहीं कराया गया, जिसके कारण जिलाधिकारी, गया ने अंचलाधिकारी, मानपुर पर रुपए 500 का जुर्माना अधिरोपित किया गया है।फतेहपुर प्रखंड के ग्राम हरदिया के निवासी *श्री महेश यादव* द्वारा पंचायत चारोखरी के वार्ड संख्या 9 में वार्ड क्रियान्वयन एवं प्रबंधन समिति के सचिव पद के चुनाव में प्रखंड विकास पदाधिकारी, फतेहपुर द्वारा गलत तरीके से चुनाव रद्द करने के संबंध में वाद दायर किया गया, जिसकी जांच भूमि सुधार उप समाहर्ता, सदर, गया से कराई गई।

जांचोपरांत बताया गया कि प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी, फतेहपुर द्वारा चुनाव कार्य में पारदर्शिता नहीं बरती गई, जिससे इनकी भूमिका संदेहास्पद है जिलाधिकारी ने सुनवाई करते हुए निर्देश दिया कि भूमि सुधार उप समाहर्ता,सदर,गया के जांच प्रतिवेदन के आलोक में प्रखंड विकास पदाधिकारी, फतेहपुर व प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी, फतेहपुर के विरुद्ध विधिवत प्रपत्र ** गठित करना सुनिश्चित करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat