LIVE24X7

सैनिकों की ऊँगली ट्रिगर पर होती है, तभी हम खुली हवा में साँस ले रहे हैं:- चंदेल

मनोरंजन पाठक छपरा

स्व.कैप्टन शिवजी प्रसाद को स्कूल प्रशासन ने दी श्रद्धांजलि

1962 एवं 65 के युद्ध में वीरता के लिए राष्ट्रपति से हुए थे सम्मानित

आज दिनांक 8/11/2019 को कैप्टन शिवजी प्रसाद की 8वीं पुण्यतिथि कैप्टन शिवजी प्रसाद इंटरनेशनल स्कूल घेघटा में मनाई गई। इस दौरान मुख्य अतिथि सहित स्कूल प्रशासन एवं छात्रों ने स्व. कैप्टन प्रसाद के चित्र पर पुष्प माला अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भारतीय शिक्षण मंडल के प्रदेश सह मंत्री विश्वजीत सिंह चंदेल ने उनके जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि स्व. कैप्टन प्रसाद युद्ध का कुशल जानकार के साथ-साथ एक सच्चे और सरल व्यक्तित्व का धनी बताया। उन्होंने कहा कि 1962 एवं 65 में भारत चीन युद्ध में बहादुरी के लिए उस समय के तत्कालीन राष्ट्रपति नीलम संजीव रेड्डी ने अदम साहस एवं वीरता के लिए सम्मानित किया था ।

उन्होंने ने आगे कहा कि समाज किसी भी दशा में जाए, राजनीति अपनी करवट किसी भी तरफ ले, तुष्टिकरण की नीति क्या हो, यह अलग बात है मगर सच यह है कि ये सैनिक हैं, इसलिए हम हैं; सच यह है कि सैनिकों की ऊँगली ट्रिगर पर होती है, तभी हम खुली हवा में साँस ले रहे हैं।

इसलिए उनके वीरता को प्रत्येक नागरिक सम्मान करें स्कूल के निदेशक सह भूतपूर्व सैनिक जनार्दन प्रसाद ने कहा कि स्व.कैप्टन प्रसाद अपने संघर्ष के दिनों से लेकर जीवन के अंतिम दिनों तक कॉपी, कलम और किताब के साथ अपने ईमानदार तथा उत्कृष्ट आचरण से सबका दिल में जगह बनाते रहे।प्रिंसिपल विश्वजीत कुमार सिंह, अजीत कुमार सिंह,विवेक कुमार, परमजीत कुमार सिंह, परमेन्द्र कुमार सिंह,जीझी सिंह,पुस्तक सिंह,जिझी कुमारी,ललिता कुमारी,एवं स्कूल के सभी बच्चे मौजूद थे।भवदीयनिदेशककैप्टन शिवजी प्रसाद इंटरनेशनल स्कूल घेघटा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat