LIVE24X7

हुलासगंज प्रखंड के त्रिलोकी बिगहा गांव में प्याज, लहसुन खाने से लोग करते हैं परहेज।

(बरुण कुमार की खास रिपोर्ट)

जहानाबाद से महज 30 किलोमीटर दूर हुलासगंज प्रखंड के त्रिलोकी बिगहा गांव में प्याज, लहसुन खाने से लोग करते हैं परहेज।जहानाबाद हुलासगंज प्रखंड के त्रिलोकी बिगहा गांव में सदियों से प्याज और लहसुन का उपयोग नहीं करते हैं। यहां तक कि शादी विवाह में भी बिना प्याज लहसुन इस्तेमाल किए पकवान बनाते हैं। वही त्रिलोकी बिगहा ग्रामीण जनता से बातचीत करने के दरमियान बुजुग व्यक्ति ने बताया कि सदियों से यहां गांव में प्याज लहसुन नहीं खाया जा रहा है। अगर कोई व्यक्ति प्याज लहसुन मांसाहारी भोजन कर गांव में प्रवेश करता है तो कुछ अप्रिय घटना घट जाती है।ऐसा मानना है लोगो का।

वही आज के नए युग के लोग इस परिवेश में प्याज, लहसुन और चिकन मटन भी प्रयोग नहीं करते हैं। उनका मानना है कि यह गांव में ठाकुरबारी का देन है कि यहां प्याज लहसुन नहीं खा सकते हैं। अगर कोई खा भी लेता है तो अप्रिय घटना घटना शुरू हो जाती है। इसीलिए यहां पर बुजुर्ग से लेकर युवा पीढ़ी के लोग भी प्याज लहसुन से काफी दूर है। अगर कोई नई नवेली दुल्हन शादी कर इस गांव में आती है तो उसे भी यह परंपरा निभाना पड़ता है। अगर यहां की कोई बेटी ससुराल में दूसरे स्थान जाती है तो वह भी प्याज लहसुन से परहेज करती है, ताकि कोई अप्रिय घटना ना घट सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat